dosti love Shayari 18+ best latest Shayari 2021

Dosti love Shayari

सितारे बिखर जाए आपकी मुस्कराहट देख कर,
जैसे शबनम पिघल जाए आफताब देख कर,
अब आपकी क्या तारीफ करूँ,
खुदा भी खूबसूरती को समजा आपको देख कर

 

दूरिया तोह दोस्ती में आती रहती है,
फिर बी ये दोस्ती दिलों को मिला देती हैं,
वो दोस्त ही क्या जोह नाराज़ न हो,
मगर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना लेती हैं!

 

बादल गरजा मगर बरसात नहीं आई
दिल धड़का मगर आवाज़ नहीं आयी
पूरा दिन गुजरने को है दोस्त
क्या एक बार भी हमारी याद नहीं आये

 

कितनी जल्दी वक़्त गुज़र जाती है
प्यास बुझती नहीं और बरसात गुज़र जाती है,
अपनी यादों से केहदो इस तरह न आया करें,
नींद आती नहीं और रात गुज़र जाती है

 

तुम्हारी पलकों पे खोयाब रख गया कोई,
तुम्हारे साँसों पे नाम लिख गया कोई,
वादा रहा भूल जाना हमें,
अगर हमसे अच्छा दोस्त मिल गया कोई.

dosti love Shayari

 

हर तस्वीर क 2 रुख है, जान और गम-इ-जाना,
एक नक़्श छुपाना हैं एक नक़्श दिखाना हैं!

 

जो कश्तियाँ थी वह डूब गयी है,
तूफ़ान भी आकर थम गया है,
हर एक मौसम गुज़र रहा है,
बस एक तेरी याद का मौसम है जो इस
दिल में सिमट गया है

 

तुम न मानो यह हकीकत है,
दोस्ती इंसान की ज़रूरत है,
किसी दिन आना हमारी महफ़िल में,
जान जाओगे ज़िन्दगी कितनी खूबसूरत है

dosti love Shayari

 

फूलो की महक को चुराया नहीं जाता,
सूरज की किरणों को छुपाया नहीं जाता,
कितनी भी दूरी हो दोस्ती में
आप जैसे दोस्त को भुलाया नहीं जाता !

 

सितम करो या न करो हम गिला नहीं करते,
विरानो में फूल कभी खिला नहीं करते,
पर इतना याद रखना
हम जैसे दोस्त बार बार मिला नहीं करते.

dosti love Shayari 18+

 

फिर न सिमटेगी
अगर दोस्ती बिखर
जाएगी ज़िन्दगी ज़ुल्फ़ नहीं
जो फिर से सवार
जाएगी जो ख़ुशी दे
तुम्हें थाम लो
दामन उसका

ज़िन्दगी रोकर नहीं हसकर गुज़र
जाएगी

dosti love Shayari

 

आँखें तो प्यार में दिलकी ज़ुबान होती है,
सच्ची चाहत तो सदा बेजुबान होती है,
प्यार मे दर्द भी मिले तो क्या गबरना,
सुना है दर्द से चाहत और जवान होती है.

 

उसकी क़र्ज़ दोस्ती का अदा को क्या गा
हम ना होन गे तू वफ़ा कोन करे गा
या रब मेरी दोस्तो सदा सलामत रखना
वर्ण मेरे मर्नी की दुआ को करे गा

dosti love Shayari

 

वादा तो नहीं करते दोस्ती निभायेंगे,
कोशिश यही रहेगी आपको नहीं सताएंगे,
ज़रूरत पड़े तो दिलसे
पुकारना,
पॉटी भी कर रहे होंगे तो बिना धोये चले आएंगे

 

दूरियों से फर्क पड़ता नहीं,
बात तो दिलों कि नज़दीकियों से होती है
दोस्ती तो कुछ ख़ास आप जैसों से है वरना,
मुलाकात न जाने कितनो से होती है.

 

लम्हा लम्हा वक़्त गुज़र जायेगा,
चंद लम्हों में दामन छोड़ जायेगा.
अभी वक़्त है दो बातें कर लो हमसे,
क्या पता कल कौन तेरी ज़िन्दगी में आ जायेगा

 

करनी खुदा से कुछ फरियाद बाकि है,
हमे उनसे कहनी कुछ बात बाकी है.
मौत अगर आएगी तोह कह देंगे ,
रुक…..अभी एक दोस्त से मुलाक़ात बाकि है

 

 

परवाह करनी है उसकी करी जो तेरी करे,

जिंदगी मुझे तुझे जो कभी तन्हा ना करे,

जान बांके उतर जा तू उसकी रुह मुझे,

जो जान से भी जयादा तुझसे वफा करे!

 

होठों पे दिल के तराने नहीं आते,
साहिल पे समुंदर के फ़साने नहीं आते,
नींद में भी खुल उठती हैं पलकें,
आँखों को ख्वाब छुपाने नहीं आते

 

हम मिति के आशियाने बनते गए
बना – बना कर उन्हें मिटाते गए
हमे कोई न अपना बना सका,
हम हर किसी को अपना बनाते गए…

 

तुम्हारी पलकों पे खोयाब रख गया कोई,
तुम्हारे साँसों पे नाम लिख गया कोई,
वादा रहा भूल जाना हमें,
अगर हमसे अच्छा दोस्त मिल गया कोई.

 

हक़ीक़त मोहब्बत की जुदाई होती है..
कभी कभी प्यार में बेवफाई होती है..
हमारी तरफ हाथ बढ़ाकर देखो.
दोस्ती में कितनी सच्चाई होती है

 

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यों है,
जो नहीं मिल सकता उसी से मोहब्बत क्यों है,
कितने खड़े है रहो पे,
फिर भी दिल को उसी की चाहत क्यों है

 

याद करते है तुम्हे तनहाई में,
दिल डूबा है सोच की गहराई में,
हमे मत ढूँढ़ना दुनिया की भीड़ में,
हमें मिलेंगे तुम्हे तुम्हारी परछाई में

 

Love Assamese Shayari

 

कितना भी चाहो, न भूल पाओगे हमें
जितनी दूर जाओगे , नज़दीक पाओगे हमें
मिटा सकते हो तो मिटा दो यादें मेरी
मगर क्या सपनो से जुदा कर पाओगे हमें

Assamese News

दूरियां बहुत हैं पर इतना समझ लो
पास रहकर भी कोई रिश्ता ख़ास नहीं होता.
तुम दिल के इतने पास हो की दूरियों का एहसास नहीं होता

 

बहुत खुशनुमा कल की रात गुजरी
कुछ तनहा पर कुछ ख़ास गुज़री
न नींद आई न ख्वाब कोई
बस आपके ही खयालों के साथ गुज़री

 

चाँद उतरा था हमारे आँगन में
यह सितारों को गवारा न हुआ
हम भी सितारों से क्या गिला करें
जब चाँद ही हमारा ना हुआ

 

आज फिर आइना हमसे पूछता है..
क्यों तेरी आँखों मे नमी क्यों है..
जिसकी दोस्ती मई खुद को भुला दिया..
फिर उसकी दोस्ती मे कमी क्यों है

 

हम आप को कभी खोने नहीं देंगे
जुदा होना चाहा तो भी होने नहीं देंगे
चांदनी रातों में ए गई मेरी याद
मेरी याद के वह पल आप को सोने नहीं देंगे

ये दिल प्यार के काबिल न रहा
कोई भी इज़हार के काबिल न रहा
इस दिल मैं बस गयी दोस्ती आपकी
अब तू चाँद भी दीदार के काबिल न रहा

 

कभी की होगी सूरज ने चाँद से मोहब्बत
तभी तो चाँद में दाग़ है
मुमकिन है कि चाँद से हुई होगी बेवफाई
तभी तो सूरज में डेग है

 

हर नज़र को एक निगाह का हक़ है
हर रूह को एक आह का हक़ है
हम भी दिल लेकर आये है इस दुनिया में
हमें भी एक गुनाह का हक़ है

 

तुझपे इतना यकीन क्यों है
तेरा ख्याल भी इतना हसीन क्यों है
सुना है दोस्ती का दर्द मीठा होता है
तो आँख से निकला आंसू नमकीन क्यों है

 

हमें अपने दिल में बसाए रखना
हमारी यादों की चिराग जलाए रकना
बहुत लम्बा है सफ़र ज़िन्दगी का यार,
एक हिस्सा हमे भी बनाए रखना

 

नज़र अंदाज़ कैसे करें आपको,
नज़र में बिठाये है आपको,
याद आने पर अश्क बहाए भी तो कैसे,
डरते है कहीं झुकी जो पलकें तो चुभेगी आपको

 

फिर चुपके से याद आ गया कोई
मेरे दिलको फिर से महका गया कोई
कैसे उनकी शुकरिअ अदा करो
मुझ जैसे नाचीज़ को शायर बना गया कोई

हम आपको पलकों पे नहीं बिताएँगे
वहां तो सपने बसते है
बिताएंगे तो सिर्फ दिल में,
क्योंकि वहां तो सिर्फ सपने बसते है

 

ज़िकर-इ-सेहर अभी तोह दोस्तों हैं दूर की बात,
देखते जाओ अभी तोह बड़ी उदास हैं रात!

 

दोस्ती दिल है दिमाग नहीं,
दोस्ती सोच है आवाज़ नहीं,
कोई आँखों से देख नहीं सकता दोस्ती का जज़्बा,
क्योंकि दोस्ती एहसास है अंदाज़ नहीं

 

दोस्ती  करके दोस्ती हम किसको नहीं भूलते
ज़िन्दगी भर हम दोस्ती है निभाते
न हो तुम्हे दोस्ती में बटवारे का एहसास
इसलिए हम नए दोस्त नहीं बनाते

 

दोस्ती के राह पर

 

थोड़ा हम चले थोड़ा तुम चलो

 

और मंज़िल न मिले तोह

 

रिक्शा कर लो.

 

कभी लाफज़ भोल जौन कभी बात भोल जौन,
तुझे माई है कादर चैहू की अप्नी जत भोल जाऊं,
उथ कार जो कभी तेरे पास से गुजरू तोह,
जैते- जते कभी खुदा को तेरे पास भोल जाऊं!

 

इश्क करना है तोह ऐसे करो की धाकान मुझे बास जाई,
आगर सांस बी लो तोह खुशबूउ उसकी हाय बास आय़े ,
प्यार का नशा आंखो पार कुचहा आइसा छाया जाय,
की बात कुच बी ना हो लेकिन नाम सिफ उसकी का आय़े !

 

दो ना जाणे क्या हमसे छुपापति थी,
थाए कुच तोह ज़ौर उस्के प्यारे होंथो पेन,
पीर भी ना जाणे क्यून हम्से शर्माती थी,
मुह जैब खुल्वेया अनका तब जाए कर मलूम हुआ,
साली चुप-चुप के पान-मसाला चबाती थी!

 

दिल मुझे हमने तुमारे प्यार की दास्तान लिखी है,
ना ठोडी ना तमाम लिखी हेन,
कभी हुमेरे लिये बी दुआ कर लिया कारो सनम,
हम्नी तोह हर एक सास तुमहेरे नाम लिखी है!

 

मोहब्बत आंखो सी निकले आसुओ को मोती बाना देती है,
मोहब्बत गहरे ज़खमो पे बी मारहम लागा देती है,
जब जीने की वजाह कोई भी ना बाची हू,
तब ये मोहब्बत मौत को भी हसीन जिंदगी बना देती है!

 

किसेके सपने जैब किसेके अरमान (इच्छा, इछा) प्रतिबंध जाए,
किसी हांसी जैब किकिकी मस्कान प्रतिबंध जाए,
प्यार हाय तोह केहे है ना उससे,
किसी सनेसे जैब किसी जान प्रतिबंध जाय!

Leave a Comment

Hindi Shayari love dosti Good morning Shayari for love in Hindi love shayari in hindi for girlfriend Beauty shayari Shayari Love Assamese Shayari